Find the latest bookmaker offers available across all uk gambling sites www.bets.zone Read the reviews and compare sites to quickly discover the perfect account for you.
Home / Female Problems Solutions / मासिक धर्म में सावधानियां Masik Dharm in Hindi

मासिक धर्म में सावधानियां Masik Dharm in Hindi

Masik-Dharm-in-Hindi, Periods-Hindi

Masik Dharm in Hindi , Period, Masik Dharm के वक्त पेट में गैस बनने, कमर दर्द, पेट दर्द, पेट फूलना और ब्लोटिन्ग, रक्त स्राव बहना, चिड़चिड़ापन की समस्या महिलाओं में पाई जाती है। यह कोई बीमारी नहीं है। यह प्राकृतिक पवित्र अंडाशय में विकसित अण्डा स्राव प्रक्रिया है। क्योंकि स्त्रीयों में पीरियड्स के वक्त गर्भ में एक तरह का खास Prostaglandin नामक Liquid बनता है, जोकि प्राकृतिक है। जिसे मासिक धर्म, माहवारी, रजोधर्म, मासिक, Female Periods से जाना जाता है। मासिक धर्म अवधि जैसे कम होती है, उसी तरह से रक्त स्राव, पीड़ा अपने आप कम हो कर ठीक हो जाती है। प्राकृतिक रूप से मासिक धर्म 45-60 वर्ष की अवधि में बन्द हो जाता है। जिसे रजानिवृत्ति / Menopause कहा जाता है।

Menses के वक्त संतुलित Healthy Foods में हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, फलों का रस, तुलसी, अदरक, फाइबर, प्रोटीन वाली खाद्य चीजें डाईड में शामिल करना फायदेमंद है। हर बार पीरियड्स के दौरान पेट में गैस बनना, कब्ज, ब्लोटिन्ग समस्याऐं लगातार होने पर सर्तक रहें। खान-पान में गड़बड़ी से मासिक धर्म की अवधि बढ़ने के साथ पीरियड्स गड़बड़ा सकता है। महिलाओं में ज्यादात्तर विकार बीमारियां पीरियड्स गड़बड़ी की वजन से होती हैं। शरीरिक कमजोरी, बीमारियां संक्रामण का भय बना रहता है।

श्वेत प्रदर इलाज…more

मासिक धर्म लक्षण / Menses Symptoms in Hindi
पीरियड्स के दौरान माहवारी रक्त स्राव का बनना और माहवारी का आना एक प्राकृतिक Prostaglandin प्रक्रिया से है। जिसके कारण पेट गर्भ में दर्द, फूलना, मांसपेशियां संकुचन, सर दर्द, रक्त स्राव ब्लोटिनग, चिड़चिड़ापन आदि लक्षण हैं। कई बार हार्मोंस गड़बडी की वजह से मासिक धर्म में बदलाव और अधिक रक्त स्राव  होने लगता है। ऐसी स्थिति में तुरन्त स्त्री विशेषज्ञ से सलाह उपचार करवायें।

मासिक धर्म में दर्द कम करने के उपाय और सवाधनियां / Periods Pain Relief Tips in Hindi

मासिक धर्म में फायदेमंद चीजें / Food to eat during Period Time

हर्बन टी / Tea for Menstrual Cramps Relief

मासिक धर्म के दौरान, अदरक, सौंफ, तुलसी से बनी चाय, ग्रीन-टी पीना फायदेमंद है। यह एक तरह से नेचुरल पेनकिलर का कार्य करती है।

फल जूस / What to drink during Period
अनार, गाजर, संतरा, अनानस,  सेवन करना फायदेमंद है। इससे शरीर में रक्त बनने की प्रक्रिया आसान हो जाती है।

हरी सब्जियां डाईट/ Diet during Periods
पालक, पत्ता गोभी, सरसों, राई, साग खाना फायदेमंद है। पीरियड्स में चैलाई, बथुआ सब्जी खाने से बचें।

दर्द निवारण सौंफ, तुलसी, अदरक पेय / Pain relief drink in Periods
मासिक धर्म में सौंफ, तुलसी, अदरक काढ़ा पीना फायदेमंद है। सौंफ, अदरक पाउडर बना कर किंचन में रखें। जो मलिआऐं काढ़ा पीना पसंद नहीं करते हैं, उनके लिए सौंफ तुलसी, अदरक से बनी चाय पीना फायदेमंद है। और खाने के तुरन्त बाद थोड़ी सी सौंफ मिश्री चबाकर खाना मासिक धर्म दर्द निवारण में फायदेमंद है।

सी-फूडस मछली / Eating Seafood in during Periods
मासिक धर्म में मछली, छींगा, खासकर सलमन मछली खाना फायदेमंद है। मछली का सेवन सीमित मात्रा में करें।

कच्चा हरा पपीता / Papaya During Periods
मासिक धर्म के दौरान कच्चे पपीते का सलाद खाना फायदेमंद है। कच्चा पपीता पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द को घटाने में सहायक है। दूसरी तरह पपीता गर्भवती महिलओं के लिए खाना मना है।

दही शक्कर / Eating Curd during Periods
पीरियड्स दर्द में दही शक्कर के साथ सेवन करना फायदेमंद है। इससे पेट दर्द और पेट गैस कब्ज बनने से रोकने में सहायक है। अकेला नहीं नही खायें।

ड्राईफूडस / Nuts and Dry Fruits
पीरियड्स के दौरान रिच विटामिनस, मिनरसल, ओमगा-6, फैटी एसिड़, वाली चीजे जैस अखरोट, बादाम, मेवा, मूंगफली आदि खाना फायदेमंद है।

शहद, दालचीनी, एलोवेरा मिश्रण / Eat in during Periods
मासिक धर्म के दौरान सुबह, दोहर, शाम एक-एक चम्मच Honey,  Cinnamon Powder, Alo Vera मिश्रण बराबर मात्रा में मिश्रण कर खाना फायदेमंद है। यह मिश्रण दर्द, तीब्र रक्त स्राव, अण्डाशय संक्रामण होने से बचाने में सहायक है।

कुमार्यासन, लोहासव, अलसी बीज / Foods to induce Periods
कुमार्यासन, लोहासव, अलसी बीज मासिक धर्म के दौरान रक्त की कमी होने से बचाने में सहायक है।

पेट नाभि मालिश / Abdomen Massage
पीरियड्स दर्द से आराम के लिए सरसों तेल से 8-10 मिनट हल्की मालिश करना फायदेमंद है।

पीरियड्स में सिकाई / Abdomen pain Bake
मासिक धर्म के दौरान पेट नाभि में होने वाली पीड़ा से आराम के लिए सिकाई अच्छा माध्यम माना जाता है। सर्दियों में गुनगुने पानी को बोतल में भर कर नाभि की सिकाई और गर्मी मौसम में ठंड़े पानी को बोतल में भर कर सिकाई करना फायदेमंद है।

साफ सफाई / Menstrual Hygiene Tips
मासिक धर्म के दौरान साफ साफई पर विशेष ध्यान देना आवश्यक बन जाता है। दिन में दो-तीन बार पैड बदले। अण्डाशय, योनि को सक्रामण होने से बचायें।

दूध शक्कर / Drinking Milk on your Period
मासिक धर्म में दूध में शक्कर घोलकर पीना फायदेमंद है। पीरियड्स में दर्द से राहत पाने और शरीर को प्याप्र्त विटामिनस मिनरलस पौषण का अच्छा माध्यम है।

आईसक्रीम, ठंडा पानी / Cold things during Period
मासिक धर्म के दौराना ठंड़ी चीजे सेवन करना फायदेमंद है। सर्वे अनुसार ज्यादात्तर महिलाऐं पीरियड्स में ठंड़ी हवा, आईसक्रीम, ठंड़ा पानी, आरामदायक कपड़े पहनना आदि पसंद करती हैं।

मासिक धर्म में परहेज / Precautions in Periods Days

जंक फूड से परहेज / What not to eat during Periods
मासिक धर्म के दौरान जंकफूड, सोड़ा डिंक, फास्ट फूड,  तली भुने पकवान, बैंगन विकार वाली चीजे मासिक धर्म पीड़ा विकार को बढ़ा सकती हैं। जो महिलाएं काॅफी, चाॅकलेट, कैंडी, सोड़ा पेय ड्रिंक आदि पंसद करती हैं, उनको पीरियड्स के दौरान कुछ वक्त के लिए परहेज करना फायदेमंद है।

नशीली चीजें परहेज / Things to avoid during Period
नशीली चीजें पसंद करने वाली महिलाओं के लिए पीरियड्स वक्त काफी घातक हो सकता है। जोकि रक्त कमी, तेज रक्त स्राव, ट्यूमर, कैंसर गांठ, का कारण बनने का भय बना रहता है। शराब, बीयर आदि नशीली चीजे पीरियड्स को और ज्यादा डीहाइड्रेसन घातक हो सकता है। नशीली चीजों से परहेज जरूरी है।

गर्म खाद्य चीजों से परहेज / Food avoid in Periods
पीरियड्स के दौरान गर्म खाद्य चीजें, बेंगन, अण्डा, कद्दू, मांस, आलू, गर्म मशाले और भारी वजन परहेज उठाने से बचें।

महावरी दर्द से आराम कैसे पायें…more

About About Writer

हैलो फ्रैंड्स ❤ मेरा नाम भारत सिंह है। मैं स्वास्थ्यज्ञान बेवसाइट का लेखक हूँ। मेरी विशेष रूचि साइंटिफिक आर्युवेदा पद्धति, स्वास्थ्य, सौन्दर्य, जीवन शैली और दैनिक - दिनचर्य जैसे विषयों का विश्लेषण एवं समीक्षा कर ज्ञानवर्धक लेख लिखने में है। मेरा मुख्य उदेश्य स्वास्थ्यज्ञान बेवसाइट के माध्यम से पाठकों के ज्ञान में बढ़ोत्तरी और ज्ञान जागृत कराना है। ❤

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *