Recent

चुकंदर जूस सलाद आर्युवेदिक औषधि Beetroot Benefits in Hindi

चुकंदर जूस - सलाद आर्युवेदिक औषधि / AMAZING HEALTH BENEFITS OF EATING BEETS / BEETROOT BENEFITS IN HINDI

Beetroot Benefits in Hindi / रिच पोषण गुणों से भरपूर चुकंदर सलाद और जूस सेवन स्वास्थ्य के उत्तम माना जाता है। चुकंदर में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट के रिच मात्रा के साथ साथ कैल्शियम, सोडियम, पोटेशियम, फाॅस्फोरस, विटामिन बी, क्लोरीन, आयोडीन, मैग्नीशियम, मिनरल जैसे महत्वपूर्ण स्वास्थवर्धक तत्व पाये जाते हैं। चुकंदर त्वचा, बालों, रक्त संचार व पाचन तंत्र दुरूस्त - सुचारू रखने का भरपूर भण्डार है। चुंकदर शरीर में ऊर्जा बढ़ाने, हीमोगलोबिन बढ़ाने व थकान मिटाने में कारगर सिद्व है। चुंकदर Healthy Beetroot को भी कहा जाता है।


चुकंदर के आश्चर्यजन फायदे / Health Benefits of Beetroot in Hindi
Beetroot Benefits in Hindi
चुकंदर जूस खून बढ़ाये / Beetroot Juice for Blood
चुकंदर में रस व अनार रस मिलाकर पीने से शरीर में रक्त की कमी 1 महीने में पूरी हो जाती है। चुकंदर के लाल रंग में आयरन क्लोरीन की मात्रा होती है, जोकि रक्त कोशिकाओं के पुननिर्माण में सहायक है।

चुकंदर जूस बीपी नियत्रण करें / Beet Juice Lowers Blood Pressure
चुकंदर जूस में पाये जाने वाले पौष्टिक गुण बीपी होने पर तुरन्त फायदे देते हैं। शरीर को तुरन्त ऊर्जावान बानने में चुकंदर जूस फायदेमंद हैं, रोज सुबह एक गिलास चुकंदर जूस पूरे दिन भर शरीर में ऊर्जा बनाये रखती है। और Heart सम्बन्धित समस्त रोगों के चुकंदर का सेवन लाभकारी है।

चुकंदर मोटापा नियंत्रक / Beetroot for Weight Loss
बेटेन नामक तत्व चुकंदर में रिच मात्रा में पाया जाता है, चुकंदर जूस व सलाद सेवन शरीर में चर्बी बढ़ने से रोकता है, और रक्त संचार में धमनियों से बेटेन नामक तत्व को शरीर से हटाने में सहायक है। चुकंदर में आॅक्सीडेन्ट तत्व भी पाये जाते हैं जोकि शरीर को संक्रामण से बचाये रखता है।

पाचन के लिए चुकंदर / Good for Digestion

चुंकदर के रस में एक-एक चम्मच नींबू रस व शहद मिलाकर सेवन करने से पीलिया-जांडिस, हेपेटाइटिस रोगी के लिए रामबाण दवा है।


बावासीर में चुकंदर / Piles Cure
बावासीर होने पर व्यक्ति रात को सोते समय व सुबह खाली पेट चुकंदर का रस में किशमिश मिलाकर पीये तो बावासीर व कब्ज से तुरन्त छुटकारा मिलता है। मिर्च, मसालेदार खाने से परहेज करें, कोशिश करें कि नमक-मिर्च-मसाला एक सप्ताह तक ना के बराबर सेवन करें, ज्यादा फल, फल रस, सलाद दूध इत्यादि खायें।

चुकंदर किडनी व पित्ताशय रोगों में / Healthy Beetroot Juice
चुकंदर, खीरा, गाजर को मिलाकर जूस तैयार कर लें, उसमें चुटकी भर सैंधी नमक डालकर पीने से किडनी व पित्ताशय से सम्बन्धित सम्मस्त विकारों में आराम मिलता है। यह मिश्रण जूस विटामिनस मिनरलस का रिच स्रोत बन जाता है। जोकि दवा का काम करती है।

चुकंदर एन्टीबायोटिक और एंटीसेप्टिक / Antibiotic, Antiseptic

1. चुंकदर के छोटे-छोटे टुक्कडे़ कर आध गिलास पानी में 10 मिनट तक हल्की आंच में उबाले, फिर रस को फुंन्सी, फोड़ो पर लगाने से जल्दी ठीक हो जाते हैं। और त्वचा साफ व ठीक हो जाती है।

2. चुकंदर के टुक्कडे, अदरक के टुक्कड़े को उबाल कर काढ़ा तैयार करें, उस में एक चम्मच सिरका मिला लें, इसे बालों पर 1 घण्टे के लिए लगा कर छोड दें, बाद में धो लें, यह रूसी बालों का सटीक आर्युवेदिक इर्लाज है।
Previous
Next Post »