Recent

गुर्दे की पथरी का रामबाण इलाज Kidney Stones Treatment Hindi

गुर्दे की पथरी का रामबाण इलाज / KIDNEY STONES : TYPES, DIAGNOSIS, AND TREATMENT / GURDE KI PATHRI KA RAMBAN ILAJ

Kidney Stones Treatment Hindi : गुर्दे की पथरी की समस्या आजकल तेजी से पनपने लगी है। हर एक हजार व्यक्ति में पचास व्यक्ति औसतन पथरी की समस्या है। पथरी 20 से 50 वर्ष की आयु के मध्य हो जाती है। और जोकि तेजी से बढ़ रही है। महिलाओं के अपेक्ष पुरूषों में पथरी की समस्या ज्यादा पाई जाती है। पथरी का होना मुख्य कारण गुर्दे में खनिजों एवं हाइड्रोक्लोरिक, सोडियम का जम जाना, पानी की कमी, तरल पदार्थ कम मात्रा में पीना, वर्कआउट न होना, खान-पान इत्यादि कई कारण होते हैं। गुर्दे की पथरी असहनीय दर्द / Kidney Stone Pain व्यक्ति को परेशान करता है। पथरी को नजर अंदाज करने से मूत्र नली में बड़ा खतरा हो सकता है। पथरी की शिकायत होने पर तुरन्त चिकित्सक से सलाह, उपचार ले।kidney-stone-treatment-hindi-tips, pathri-ka-ilaj, kidney-stones-in-hindi
पथरी के लक्षण / Kidney Stones Symptoms
पथरी होने कई लक्षण होते हैं जैसेकि पेशाब में जलन, पेशाब में बदबू, भूख न लगना, पेशाब करने समय तेज पीड़ा होना, पेट के निचले (बांये या दांये) हिस्से में दर्द होना, तेज पेट दर्द चक्कर आना, उल्टी आना, अचानक बुखार आना आदि पथरी के मुख्य लक्षण माने जाते हैं।


पथरी में तुरन्त आराम व निजाद पाने के रामबाण नुस्खे / Home Remedies for Kidney Stone in Hindi

1. सेब का सिरका / Apple Vinegar
सेब का सिरका स्टोन को नष्ट करने में सहायक है, सेब का सिरका पथरी को पिघलाता है और पथरी मूत्र के रास्ते बाहर आ जाती है। सेब का सिरका स्वस्थ व्यक्ति भी आसानी से सेवन कर सकता है। सेब सिरका हाइड्रोक्लोरिक व सोडियम एसिड को शरीर गुर्दे में जमने नही देता। इसी लिए आर्युवेद में सेब का सिरका गुर्दे के अति उत्तम माना जाता है।
सेब का 4 चम्मच सिरका को 4 चम्मच पानी में गर्म कर साफ सूती कपड़े में भिगो कर पथरी वाली जगह पर सेकन करें। इससे पथरी दर्द में तुरन्त आराम मिलता है।

2. पानी निकाले पथरी / Drinking Water
पथरी होने पर खूब पानी पीये, प्यास न लगने पर भी पानी पीये, पानी स्टोन को मूत्र के रास्ते बाहर निकालने में सहायक है। और लगातार पानी ठीक पीने से पथरी की दुबारा होने की सम्भावनाऐं ना के बराबर रहती है। पर्याप्त पानी पीना स्वस्थ स्वास्थ्य के लिए जरूरी है।

3. कुलथी अमृत दवा (Horse Gram)
कुलथी दाल या गहथ दाल, पथरी के लिए रामबाण दवा का काम करती है, कुलथी दाल / गहथ को अच्छे से साथ व धो कर रात को गुनगुने पानी में मोटा दरदरी कूट कर भिगो दें, सुबह खाली पेट कुलथी के पानी पीने से तुरन्त फायदा होता है और एक चम्मच भीगे कुलथी बारी चबा कर पानी के साथ सेवन करने से पथरी स्टोन धीरे-धीरे घटकर 20 से 25 दिनों में मूत्र के साथ बाहर आ जाती है। कुलथी का पानी दिन में रोज 4 बार जरूर पीयें। स्वस्थ व्यक्ति को भी कुलथी की दाल व कुलथी की रोटी महीने में 2 -3 बार जरूर खानी चाहिए। कुलथी से स्टोन पथरी होने की सम्भावनाऐं नहीं के बराबर होती है।


4. प्याज का रस / Onion Juice
दो प्याज को छील कर टुक्कड़े कर हल्की आंच में 10 मिनट का उबालें, बाद में ठंड़ा होने पर पानी को दिन में 3 बार छान कर सेवन करने से पथरी बाहर निकलने में सक्षम है। प्याज में औषधीय गुण पाये जाते हैं, जोकि पथरी मरीज के लिए दवा का काम करती है।

5. जूस एवं तरल खाद्य पदार्थ / Liquid Foods
पथरी होने पर नारियल पानी, गाजर, करेला रस, फलों में अंगूर, केला, नीबूं, पाईनेपल जूस, अंगूर, सलाद में प्याज, बदाम, चैलाई का साग रूटीन के साथ सेवन करने से पथरी पिघलने व मूत्र के रास्ते बाहर आने में सहायता मिलती है।
बताए गये जूस व तरल में मैग्निशियम, विटामिन बी6, फास्फोरस, ओक्सालिड एसिड, कैल्शियम, विटामिनस व मिनरल पर्याप्त मात्रा में पाया जाती है जोकि पथरी की रोकथाम में सक्षम खास दवा है। पथरी निवारण पेय पीयें।

6. पथरी में ये चीजें नहीं खायें / Foods to avoid with Kidney Stones
टमाटर, पालक, चवली, गोभी बैगन, मशरूम, चीकू, कोल्ड ड्रिंक, काजू, काॅफी, चाॅकलेट, मीट-मांस, शराब, गुटका के सेवन से बचें। ये सारी चीजें पथरी को बढावा दे सकती हैं।

7. जौ अनाज पानी / Barley for Kidney Stones
पथरी होने पर रोज सुबह जौ पानी पीने से पथरी जल्दी निकलती है। 200 ग्राम जौं 3 लीटर पानी में कूट कर रात को भिगों दें। सुबह छानकर पानी निकाल लें। और सुबह खाली पेट, दोपहर भोजन से 15-20 मिनट पहले, रात्रि सोने से 10 मिनट पहले जौं पानी पीयें। जौं पानी सेवन पथरी समस्या में फायदेमंद है। जौं - अनाज से बहुत सारे स्वास्थ्यवर्धक पेय बनाये जाते हैं। जौ किसी औषधि से कम नहीं है।

8. पत्थरचट्टा पौधा पथरी औषधि / Miracle Pathar Chatta Leaf for Kidney Stones
Pathar Chatta for Kidney Stone / पत्थरचट्टा पौधे की पत्तियों गाल ब्लैडर स्टोन के लिए अचूक रामबाण औषधि है। किड़नी स्टोन होने पर रोज सुबह खाली पेट पत्थरचट्टा के 4-5 कोमल पत्तों को लगातार 1 महीना चबाकर खाने से, और पत्थरचट्टे पत्ते और तुलसी पत्ते पीसकर 8-10 चम्मच रस 1 लीटर पानी में मिलाकर दिन में दो - बार पीने से पथरी धीरे-धीरे घटकर टुक्कडें रूप में पेशाब के रास्ते बाहर आ जाती है। प्रोस्टेट थैली से पथरी को तेजी से नष्ट करने में पत्थरचट्टा पत्ते / Patharchatta Leaf सेवन अचूक रामबाण औषधि है। पत्थरचट्टा पौधे के पत्ते स्वाद में खट्टे और नमकीन जैसे लगते हैं। तिलचट्टा पत्तों को सब्जी, सलाद में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। Kidney Stones Remove करने में पत्थरचट्टा पत्ते सहायक है।


9. करेला जूस और मूली सलाद / Karela Juice, Mooli Salad
करेला जूस और मूली सलाद किड़नी स्टोन में आॅक्जेलेट क्रिस्टल बनने से रोकती हैं। करेला और मूली में मेग्रीशियम, फाॅस्फोरस भरपूर मात्रा में मौजूद है। करेला जूस और सलाद सेवन के 1 घण्टे बाद केला खायें। करेला, मूली सलाद, केला किड़नी स्टोन घटाने में सहायक हैं।

10. किड़नी स्टोन में काढ़ा / Varun Tree Chaal, Gokharu Kadha
पथरी होने पर 100 ग्राम गोखरू और 100 ग्राम वरूण की छाल को बारीक पीसकर हल्की आंच में काढ़ा तैयार कर ताजा-ताजा पीयें। गोखरू और वरूण छाल का काढ़ा किड़नी स्टोन घटाने में सहायक है।

11. गाल ब्लैडर पथरी में गुडहल फूल, पत्ते / Hibiscus Powder used for Kidney Stone Treatment
पथरी गाल ब्लैडर में होने पर बिना दवाईयों और आॅप्रेशन से पथरी निकालना ना मुमकिन है। परन्तु आर्युवेदिक दवा से हर तरह की पथरी को जड़ से बिना आॅप्रेशन के पथरी को कम कर मिटाया जा सकता है।अगर पथरी गाल ब्लैडर पर है तो गुड़हल फूल पाउडर आधा चम्मच रोज सुबह खाल पेट गुनगुने पानी के साथ लें। और रात्रि सोने से 1 घण्टे पहले लें। गुड़हल फूल फंक लेने के 4-5 घण्टे तक कुछ खायें पीयें नहीं। गुड़हल का फंक रात्रि सोते समय लेना ज्यादा फायदेमंद है। मात्र 20-25 दिनों में गाल ब्लैडर पथरी धीरे-धीरे कम हो जाती है। और पथरी नष्ट हो सकती है। गाल ब्लैडर की पथरी के लिए गुड़हल फूल फंक अचूक औषधि मानी जाती है। गुडहल, पत्ते फूल पाउडर पंसानी, जड़ीबूटी दुकान में मिल जाती है। या फिर आॅनलाइन मंगवा सकते हैं।

इस तरह उपरोक्त घरेलू आर्युवेदिक तरीकों से किड़नी की पथरी को धीरे-धीरे घटाया मिटाया जा सकता है। और चंद दिनों में बिना आॅपरेशन के किड़नी स्टोन से मुक्ति पा सकते हैं। किड़नी स्टोन यदि गम्भीर स्थिति में है तो तुरन्त डाॅक्टर से सलाह एवं उपचार करवायें।
Summery : kidney stone treatment ayurveda remedy hindi, Home remedies for Kidney Stones Hindi , kidney stones in hindi, kidney stones symptoms in hindi, kidney stones causes in hindi, pathri ka gharelu ilaj , kidney ki bimari ki dua, herbs for kidney stones, herbal remedies for kidney stones, treatment of kidney stones in males, kidney stones and treatment, kidney stone disease treatment,kidney stones ke lakshan, kidney stone ke gharelu upay, pathri me kya na khaye, pathri ka pakka ilaj, pathri kya hai, pathri kyu hoti hai, kidney stones symptoms in hindi, hindi kidney stones
Previous
Next Post »