दमा देर तक रहने के दुष्परिणाम Side Effects of Asthma in Hindi

दमा देर तक रहने के दुष्परिणाम / ASTHMA STEROIDS / SIDE EFFECTS OF ASTHMA IN HINDI

Side Effects of Asthma / अस्थमा शुरू होते ही तुरन्त उपचार इलाज करन जरूरी है। अस्थमा देर तक रहने से शरीर के कई अंग क्षतिग्रत होने का भय बना रहता है। अस्थमा दीर्ध काल तक रहने से होने वाले शरीरिक नुकसान इस प्रकार सें हैं।Side-Effects-of-Asthma-in-Hindi, Asthma-Side-Effects
1. लगातार अस्थमा रहने से फेफ़डों में कफ जम जाता है। और फेफ़डे कमजोर और रोगी हो जाते हैं।

2. लम्बे समय तक अस्थमा रहने पर श्वास की नली में सूजन और छाती दर्द रहती है।


3. अस्थमा जितना पुराना होता रहता है। उसका असर किड़नी पर पड़ता है। किड़नी खराब होने का भय बना रहता है।

4. अस्थमा लम्बे समय तक रहने से हृदय, धमनियों पर बुरा प्रभाव पड़ता है। जिससे निमोनिया, पीलिया जैसे घातक रोग होने की सम्भावनाऐं बनी रहती है।

5. दीर्धकाल तक अस्थम रहने से और दवाईयों के सेवन से मोटापा, डायबिटीज, रक्तचाप जैसी बीमारियां होने की सम्भानाऐं बन जाती है।
Asthma Treatment / अस्थमा का इलाज उपचार तुरन्त करें। ज्यादा देर तक दवाईयों के सेवन से कई तरह के अन्य रोग शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। रोज Asthma Yoga Exercise / व्यायाम योगा करें। खान पान पर ध्यान दें। हरी सब्जियां, सलाद, पौष्टिक आहार लें। धूम्रपान, शराब, गुटका, तम्बाकू नशीले चीजें, गंध, धुआं, गैस से दूर रहें।


Previous
Next Post »