पुदीना के अचूक औषधीय गुण Mint Health Benefits in Hindi

MINT HEALTH BENEFITS IN HINDI
Mint Benefits / पुदीना आर्युवेद में खास औषधि के रूप इस्तेमाल किया जाता है। Pudina / पुदीना पर वैज्ञानिक कई शोध कर फायदेमंद साबित कर चुकी है। पुदीना आज कई तरह की दवाईया में शामिल किया जा रहा है। पुदीना में फाइबर, मैग्नीशियम, पोटेशियम, रिबोफलेविन, थायमिन, कैल्शियम, आयरन, मेन्थाल, कैलारी, टैनिन विटामिन सी, विटामिन डी, विटामिन, मिनरलस मौजूद हैं। पुदीना सेवन के कई फायदे हैं जोकि रोग बीमारियों को दूर करने में सहायक है। घर में गमले में एक पुदीना पौधा जरूर लगायें। या फिर पुदीना के सूखें पत्तों का पाउडर हमेशा किचन में रखें। पुदीना पत्तें या पुदीना पत्तों का पाउडर सप्ताह में 1-2 अवश्य सेवन करना चाहिए। पुदीना सैकड़ों बीमारियों, सक्रामण को रोकने में सक्षम है।

पुदीना के औषधीय गुण / Medicinal Properties of Peppermint, Mint Health Benefits in Hindi

mint-health-benefits-in-hindi

पेट की गैस एसिडिटी का रामबाण दवा / Gas, Acidity Relief
पुदीना की 5-6 पत्तियां, 2 ग्राम अदरक सौंठ, 2 ग्राम सेंधा नमक, एक चम्मच अजवाइन पाउडर सभी को एक गिलास पानी में घोलकर रोज सुबह शाम पीने से गैस एसिडिटी समस्या धीरे धीरे ठीक हो जाती है।

सर्दी जुकाम से गला दर्द दूर करे पुदीना / Home Remedy for Cough
पुदीना पत्तियां, इलाईची, अदरक डालकर बिना दूध की चाय बनायें, उसमें चीनी की जगह 1 चम्मच शहद मिलाकर पीने से गला दर्द ठीक करने में सक्षम है। यह गला दर्द का अचूक ईलाज है।


मुंह की हर र्दुगन्ध दूर करे पुदीना / Mint Mouth Freshener
मुंह से र्दुगन्ध, गन्ध, किसी भी पेय की र्दुगन्ध आने पर तुरन्त 2-3 हरी पत्तियां चबाने से र्दुगन्ध पूरी तरह से दूर हो जाती है। बीड़ी, सिगरेट, शराब इत्यादि की र्दुगन्ध तुरन्त दूर करे पुदीना।

पेट दर्द दूर करे / Abdominal Pain Relief
पेट दर्द होने पर पुदीना के 6-7 पत्तियां का रस, हींग, 1 चम्मच चीनी, 1 नींबू रस सभी को एक गिलास ठंडे पानी में घोलकर पीने से पेट दर्द में तुरन्त आराम मिलता है।

पीलिया जोन्डिस दूर करे पुदीना / Jaundice Home Remedy
5-6 पुदीना पत्तियां, 1 चम्मच शहद गन्ने के रस के साथ रोज सुबह शाम सेवन करने से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है। साथ में मूली पत्तियां सब्जी रूप में खायें और मूली पत्तियां रस सेवन करें।

भूख बढ़ाये पुदीना / Increased Appetite
भूख कम लगने पर पुदीना पत्तियां, सेंधा नमक, प्याज, नींबू रस सभी की मिली चटनी खाने से भूख लगने लगती है। और पाचन तंत्र दुरूस्त रहता है। भूख विकार दूर करने में पुदीना चटनी खास सहायक है।

मधुमखी, कीट पंतग, कीड़ा के काटने पर पुदीना / Reducing Swelling, Poison
कई बार अचानक मधुमखी, कीट पंतग, कीड़ा के काट लेता है और सूजन आ जाता है। तुरन्त मधुमखी, कीट पंतग का जहर नष्ट करने के लिए पुदीना हरी पत्तियां को मिट्टी तेल में भिगो कर ग्रसित जगह पर रगड़ने से कीट पंतग का जहर नष्ट हो जाता है। और त्वचा पहले जैसी हो जाती है। मधुमखी, कीट पंतग का जहर नष्ट करने और सूजन कम करने में यह अचूक ईलाज है।

गर्मी लू से बचाये पुदीना / Peppermint for Heat Exhaustion
गर्मी लू लगने पर तुरन्त पुदीना रस, इलायची और नींबू रस सेंधा नमक के साथ सेवन करने से गर्मी लू से छुटकारा मिलता है। गर्मी लू से बचाने के लिए पुदीना नींबू रस सक्षम है।

चेहरे पर दाग धब्बे पड़ने पर पुदीना / Peppermint for Skin Rash
कई बार चेहरे पर हल्के सफेद या गहरे लाल धब्बे नजर होते हैं। तुरन्त पुदीना पत्तियां रगड़ने से 1-2 सप्ताह के अन्दर चेहरे त्वचा के दाग धब्बे गायब हो जाते हैं।


हिचकी दूर करे पुदीना / Hiccup Relief, Pudina
लगातार हिचकी आने पर पुदीना की पत्तियां और सौंफ चबायें या फिर पुनीना पत्तियां का रस में काली मिर्च पीसकर पीयें। इससे हिचकिया तुरन्त रूक जाती हैं। हिचकी, स्वास सम्बन्धित समस्याओं के लिए पुदीना काली मिर्च मिश्रण सेवन फायदेमंद है।

प्रसव, मासिक धर्म में दर्द दूर करे पुदीना / Mint, Natural Pain Killer
महिलाओं में प्रसव और मासिक धर्म में होने वाले दर्द को कम करने में पुदीना 4-5 पत्तियों का रस, आधा चम्मच अजवाइन पीसकर, 2 कालीमिर्च, 1 चम्मच चीनी शर्कर एक गिलास पानी के साथ पीने से दर्द से छुटकारा मिलता है।

हैजा दस्त तुरन्त दूर करे पुदीना / Haiza, Cholera, Diarrhea, Relief Mint
Cholera Diarrhea / हैजा दस्त जैसे घातक बीमारियों में तुरन्त 6-7 पुदीना हरी पत्तियां का रस, एक प्याज का रस, 1 नींबू बीमार व्यक्ति को देने से पेट रूक जाता है। खाने में दही और पके चावल दें। दाल, सब्जी, नमक - मिर्च वाली चीजें न खायें। पेट खराब होने पर चाय पत्ती का तेज गर्म पानी कर उसके के दो भाग करें। आधा भाग में आधा विल्कुल ठंड़ा पानी मिलायें। उसमें 1 चम्मच देशी घी डालकर पीने से दस्त तुरन्त रूक जाता है।
  Pudina Ke Fayde
Previous
Next Post »