सुरक्षित आर्युवेदिक रस मोटापा तेजी से घटायें Weight Loss Drink in Hindi

सुरक्षित आर्युवेदिक रस मोटापा तेजी से घटायें / AYURVEDIC JUICE AND TIPS FOR WEIGHT LOSS FAST, WEIGHT LOSS DRINK IN HINDI

Weight Loss Drink in Hindi / मोटापा बढ़ने पर व्यक्ति पहले जैसा फिट होने के लिए तरह - तरह से प्रयास करता है। परन्तु अकसर असफलता मिलती है। अकसर व्यक्ति तेजी से वजन घटाने के लिए 1-2 वक्त का खाना छोड़ देते हैं या बहुत कम कर देते हैं। खाना कम या छोड़ने से वजन नहीं घटता। खाने का सही फूड चार्ट बनायें, शरीर को सम्पूर्ण पौषण तत्व पहुंचाने वाली चीजों जैसे दूध, दही, पनीर, सोयाबीन खाद्य पदार्थ, हरी पत्तेदार सब्जियां एवं फल चार्ट में शामिल करें। शरीर में मौजूद मेटाबालिज्म के हिसाब से फूड चार्ट तैयार करें। हर मनुष्य के शरीर का मेटाबालिज्म अलग-अलग होता है। जोकि शरीर की बनावट, आकृति को प्रभावित करता है। Weight Loss में उत्तम Ayurvedic Juice माना गया है।

Weight-Loss-Drink-in-Hindi-Tips

 प्राकृतिक एन्टीआॅक्सीडेंट जूस मेटाबालिज्म को प्रभावित करें / Best Weight Loss Drinks

1.  1 कप हरे खीरे का रस / Cucumber Juice
2.  1 कप गाजर का रस / Carrot juice
3.  1 गिलास पानी / Waterअलसी बीज पाउडर
4.  1 चम्मच / Flax seedअजवाइन पाउडर
5.  1 चम्मच / Ajwain, Carm Seeds
6.  1 चम्मच तुलसी पत्तों का रस / Tulsi Juice
7.  चुटकी भर हींग / Asafoetida


औषधि रस तैयार विधि / Weight Loss Recipes
अजाइन और अलसी के बीज को बारीक पीस कर पाउडर बना लें, बने पाउडर को गाजर और खीरे के रस डालकर 5 मिनट तक घालें। फिर  तुलसी पत्तों का रस और चुटकी भर हींग अच्छे से घोलकर 5 मिनट तक छोड़ दें। इस तरह से 10 मिनट में मोटापा वजन तेजी से घटाने के लिए अचूक असरदार आर्युवेदिक औषधि तैयार हो जाती है।


औषधि सेवन / Remedy, Intake
रोज सुबह शाम और लगातार 10-15 दिनों तक सेवन करने पर व्यक्ति को खुद ही शरीर का Weight Fat Loss /  वजन, मोटापा घटने का आभास होना शुरू हो जाता है। यह औषधि सेवन करने से पहले शरीर का वजन जरूर करवायें। 15 दिनों बाद फिर से बजन करवायें। परिणाम खुद सामने आ जायेगें। इस तरह से अगर 25-30 दिनों तक लगातार सेवन किया जाय तो शरीर पहले जैसा फिट और चुस्त बन जाता है। मोटापा बीमारियों की जड़ है। शरीर को अतिरक्ति मोटापा से ग्रसित होने से बचाना आवश्यक बन जाता है। रोज व्यायाम योगा / Exercise Yoga करें और आर्युवेदिक तरीके अपनायें।

Previous
Next Post »