अर्जुन पेड़ महाऔषधि Arjun Tree Benefits in Hindi

अर्जुन पेड़ महाऔषधि 

Arjun Tree / अर्जुन पेड़ भारत में लगभग सभी जगह पाया जाता है। अर्जुन पेड़ की छाल, फल, बीज, पत्ते कई औषधीय गुणों से भरपूर है। अर्जुन पेड़ छाल / Arjuna Bark को धूप में सुखाकर बारीक पीसकर पाउडर बनाकर औषधि रूप में इस्तेमाल किया जाता है। अर्जन पेड़ छाल रस, फूल, फल रस, बीज से कई तरह की औषधियां बनाई जाती हैं।


अर्जुन पेड़ पहचान / About Terminalia Arjuna

अर्जुन पेड़ को कौह, थेल्ला मदि, नीर मरधू, कंबकू, मरूधा, कोह, मरम, अर्टिनेलिया अर्जुन, Terminalia Arjuna आदि नामों से जाना जाता है। अर्जुन पेड़ लगभग 50 से 80 फुट लम्बे और टहनियां फैली होती हैं। छूने पर पत्ते एक तरह से चिकने और दूसरी तरफ से सख्त खुरदुरे महसूस होते हैं। पत्ते लम्बाई में 8 से 10 सेंमी. और चैडाई 3 से 5 सेमी. तक होते हैं। अर्जुन फल लगभग 2 इंच तक लम्बे होते हैं। छाल बाहर से मुलायम, थोड़ा सख्त हल्के सफेद रंग और अन्दर से हल्की लाल रंग में होती हैं। अर्जुन पेड़ की 5-6 मुख्य किस्में होती हैं। नदीं, तालाब, नालों, नमी वाली भूमि जगहों पर अर्जुन पेड़ पाये जाते हैं। तरह-तरह औषधि रूप में Arjun Tree Benefits देता है।
Arjun-Tree-Benefits-in-Hindi

अर्जुन पेड़ औषधि रूप में फायदे / Arjun ki Chaal Benefits, Arjun Tree Benefits in Hindi

हृदय विकार मिटाये / Good for Healthy Heart
रोज अर्जुन पेड़ छाल रस चबाकर रस चूसने से समस्त हृदय विकारों से आराम दिलाने में सहायक है। हृदय रोगी / Heart Patient के लिए अर्जुन पेड़ छाल औषधि समान है।


कोलेस्ट्राॅल नियंत्रक / Improve your Cholesterol

कोलेस्ट्राॅल बढ़ने पर अर्जुन पेड़ छाल पाउडर काढ़ा सुबह शाम पीने से बंद वहिकाऐं सुचारू करने में सहायक है। अर्जुन पेड़ छाल काढ़ा अचूक औषधि है।

हाई ब्लडप्रेशर निवारण / Ways to Control High Blood Pressure
ब्लडप्रेशर मरीज के लिए अर्जुन पेड़ छाल / Arjun Ki Chaal चूर्ण नित्य चाय, गर्म पानी के साथ सेवन करना फायदेमंद है। ब्लडप्रेशर मरीज के लिए अर्जुन पेड़ छाल चाय, पेय सेवन अचूक दवा का काम करती है।

सफेद बाल निवारण / White Hair Removal
सफेद बालों को काला करने के लिए अर्जुन पेड़ छाल पाउडर, मेंहदी, चायपत्ती मिलाकर लगाना फायदेमंद है। यह एक तरह से नेचुरल हेयर कलर है।


यूरिन विकार दूर करे / Urine Infection Cure

पेशाब में जलन, पेशाब रूक कर आना, संक्रामण होने पर रोज सुबह अर्जुन पेड़ छाल काढ़ा पीना फायदेमंद है। UTI cure समस्या ठीक करने में अर्जुन पेड़ छाल सहायक है।

घाव, निशान, जलन मिटाये / Wound Scar Removal, Remedies
अर्जुन पेड़ छाल रस और चूर्ण जलन त्वचा, जख्म, चोट पर लगाने घाव निशान मिटाने और जल्दी ठीक करने में सहायक है।


मुंह अल्सर में अर्जुन पेड़ / Home Remedies for Ulcers

मुंह में छाले पड़ने पर, अर्जुन पेड़ छाल पाउडर को नारियल तेल के साथ लगाने से छाले तुरन्त मिट जाते हैं। अर्जुन पेड़ छाल पाउडर शहद मिश्रण भी अल्सर, मुहं छालों की अचूक घरेलू औषधि है।


तेज ज्वर निवारण औषधि / Fever Remedies

अर्जुन पेड़ छाल पाउडर, गिलाय आधा चम्मच मिश्रण गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से बुखार से तुरन्त राहत दिलाने में सहायक है। और डायरिया होने पर अर्जुन छाल काढ़ा फायदेमंद है। प्राचीन कालीन वैद्य अर्जुन छाल, गिलाय मिश्रण औषधि कई रोगों में निवारण हेतु इस्तेमाल करते थे।


वजन नियत्रंक अर्जुन काढ़ा / Arjun ki Chaal for Weight Loss

मोटापा से परेशान व्यक्ति के लिए अर्जुन पेड़ छाल काढ़ा सुबह शाम सेवन करना फायदेमंद है। केवल महीने भर में अर्जुन पेड़ छाल काढ़ा सेवन करने से असर दिखने लगते है।

टूटी हडडी जोड़े / First Aid for Broken Bones and Fractures
हाथ, पैर टूटने, चोट लगने पर अर्जुन पेड़ छाल पाउडर, शीशम पेड़ छाल पाउडर को कच्चे दूध के साथ पेस्ट बनाकर चोट वाली Bone Fracture / जगह पर लेप पटटी करने से टूटी हडडी, घाव जल्दी ठीक करने में सहायक है।

किड़नी स्टोन में अचूक औषधि / Kidney Stone Remedy
किड़नी स्टोन होने पर अर्जन पेड़ छाल और जौ उबाल कर काढ़ा छान कर पीने से किड़नी स्टोन तेजी से घटने में सहायक है। किड़नी स्टोन मरीज के लिए अचूक औषधि है।


डायबिटीज में अर्जुन बीज / Good for Diabetes

डायबिटीज में अर्जुन बीज फंक जामुन बीज के साथ बराबर मात्रा में मिलाकर कर गर्म पानी के साथ सेवन करना फायदेमंद है। अर्जुन बीज और जामुन बीज मिश्रण मिश्रण सेवन डायबिटीज मरीज के लिए अचूक औषधि है।

गले खर्राश कफ औषधि / Good for Sore Throat
सर्दी जुकाम से गला खराब होने पर, कफ विकार होने पर अर्जुन छाल काढ़ा पीना और छाल के गुनगुने पानी से गर्रारा करना फायदेमंद है।

स्वेतप्रदर में अर्जुन छाल पेय / Terminalia Arjuna for Female
महिलाओं में लगातार White Discharge /स्वेतप्रदर समस्या होने पर नित्य गुनगुने पानी के साथ अर्जुन छाल सेवन करना फायदेमंद है।


अर्जुन पेड़ छाल सावधानियां / Terminalia Arjuna Side Effects


1. गर्भवती महिलाओं के लिए अर्जुन पेड़ छाल / Arjuna Powder सेवन मना है।
5 साल से छोटे बच्चों के लिए अर्जुन छाल सेवन मना है।

2. अर्जुन छाल सेवन रक्त संचार तीब्र करता है। गंभीर सर्जरी में अर्जुन छाल काढ़ा सेवन से बचें। Arjuna Herb एक तीब्र रोग निवारण औषधि में से एक है।

3. अर्जुन छाल का सेवन सीमित मात्रा में करें। दिन में 1-2 बार ही करें। लगभग आधा कप से भी कम मात्रा में सेवन करें।

4. अर्जुन पेड़ छाल, फल, बीज ज्यादा सेवन से बचें। ज्यादा सेवन से Arjuna Tree Side Effects कर सकता है।
Previous
Next Post »