नांक के बारे आश्चर्यजनक तथ्य Nose Facts in Hindi

NOSE FACTS IN HINDI / AMAZING NOSE FACTS IN HINDI

Nose Facts / नांक सांस लेने से लेकर हर तरह की गंध, दर्गुंध, खुशबू का पता लगाने में सक्षम है। नांक के बारे खास रोचक आश्चर्यजनक तथ्य इस प्रकार से हैं। जिन्हें जानकर आप हैरान रह जायेंगे।

नांक के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य / Amazing Facts About Nose  / Nose Facts in Hindi

1. नांक एक तरह से शरीर का नेचुरल ऐयर फिल्टर है।

2. नांक सांस लेने का मुख्य मार्ग है। हमेशा नांक से ही सांस लेनी चाहिए। नांक से सांस लेना और मुंह से सांस छोड़ना स्वस्थ शरीर की पहचान है।

3. नांक शुष्क, ठंडी हवा को नम बनाकर कर मस्तिष्क, फेफड़ों, शरीर को भेजती है।

4. नांक हर तरह गन्ध सूघं कर ब्रेन को संदेश देती है। ब्रेन गंध प्रकार का पता लगता है।

Nose-Facts-in-Hindi, Amazing-Nose-Facts-Hindi

5. नांक में 10,000 तरह की गन्ध सुगन्ध सूघने पहचान करने की क्षमता है।

6. फिंगरप्रिंट की तरह नांक के भी स्मैलप्रिंट अलग होते हैं।

7. नांक डर, भय, खुशी, कामोत्तना का पता लगा सकती है।

8. नांक और कण्ठ मिलकर व्यक्ति की सुरीली आवाज स्वर बनाते हैं। इसलिए हर व्यक्ति की आवाज अलग होती है।

9. नांक विभिन्न तरह के भोजन के स्वाद को सुगन्ध के माध्यम से जीभ को संकेत करती है। जिससे जीभ आसानी से स्वाद का पता लगाती है।

10. नांक में कोई हड्डी नहीं होती। नांक पांच तरह के मांसपेशियों से बना होता है।

11. दोनो में से एक भी नांक छिद्र बंद होना शरीर में रोग होने का संकेत देती है। एक नांक छिद्र बंद कर सांस लेने पर अगर छिद्र बंद है तो शरीर में रोग के पनपने का संकेत देती है।

12. नांक 1 घण्टे में 100 गन्ध सूंघ सकती है।

13. 3 तरह की गधं एक साथ सूघंने पर व्यक्ति बेहोश हो सकता है।

14. नांक के बनावट 14 तरह से भिन्न होते हैं। संसार में लगभग 14 तरह के नांक आकार बनावट ही होते हैं।

15. महिला की नांक 15 से 17 वर्ष तक पूर्ण विकसित हो जाती है। और पुरूष की नांक 17 से 19 वर्ष के बीच पूर्ण विकसित होती है।

16. छींकते समय छींक की गति 100 मील पति घण्टा होती है।

17. महिलाओं की सूघंने की क्षमता पुरूर्षों से कई ज्यादा होती है।

18. नांक से सांस लेने पर नांग धूल, मिट्टी कण, डस्ट को छान कर शुद्ध नम हवा ब्रेन फेफड़ों शरीर में पहुंचाती है।

19. गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की सूघंने की क्षमता तेज हो जाती है।

20. अधिक गर्मी - लू में नांक से खून बहना शरीर में अधिक गर्मी प्रकोप की ओर संकेत देती है। नांक झिल्ली शुष्क और संक्रमित हो जाती है। और फिर तरह तरह के नांक रोग हो जाते हैं।

21. नांक की त्वचा शरीर के अन्य त्वचा से मजबूत होती है।

22. गंध - सुगन्ध से शरीर पर सकारात्मक और नाकारात्मक प्रभाव डालती है। दुर्गंध नाकारात्मक की ओर ले जाती है।

23. नांक कभी भी नहीं सूघंती है। नाक झिल्ली गंध सुगन्ध को मस्तिष्क तक पहुंचाने का मार्ग है।

24. मस्तिष्क नांक जरिए से गंध सुगन्ध सूघं कर पता लगाता है।

25. इन्फेंट - छोटे बच्चे गन्ध से ही अपनी असली मां पहचान लेते है। छोटे बच्चों की सूघंने की शक्ति तीब्र होती है।

26. सूघंने की शक्ति को विज्ञान में अनोस्मिया anosmia कहा जाता है।

27. मानव नांक 5 तरह की मांसपेषियों से बनी होती है।

28. गन्ध के भी मुख्य सात मुख्य रूप हैं। जैसकि संगीत के सात सुर हैं। जिन्हें केवल नांक ही सूंघ कर पहचान सकती है।

29. 50 वर्ष आयु के बाद सूंघने की शक्ति अपने आप कम होने लगती है। और 80 वर्ष आयु के बाद मनुष्य की सूघंने की शक्ति नष्ट हो जाती है।

30. नांक की प्लास्टिक सर्जरी को rhinoplasty कहा जाता है।

31. महिलाओं के ovulation period को पुरूष आसानी से महसूस कर लेता है।

32. महिलाओं की नांक आकार पुरूष नांक आकार से छोटी होती है।

33. नांक गंध को विज्ञान की भाषा में आॅल्फैक्षन कहा जाता है।

34. जिन लोगों की सूघंने की शक्ति तेज होती है। उन्हें हाइपरोसिया hyperosmia कहा जाता है।

35. जानवर मनुष्य से ज्यादा विभन्न गंधों का पता आसानी से गा सकते हैं।

36. न्यूजीलैण्ड के माओरी प्रजाति के लोग एक दूसरे को नांक दबाकर, नांक बंदकर बधाईयां, शुभकामनाए देते हैं
Previous
Next Post »